क्रैश हुआ वायुसेना का लड़ाकू विमान जगुआर, पायलट सुरक्षित

0
45

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले हेतिमपुर के पास सोमवार को वायुसेना का लड़ाकू विमान जगुआर क्रैश हो गया। विमान का संतुलन बिगड़ते ही पायलट ने पैराशूट की मदद से कूदकर अपनी जान बचा ली। ऐसे में विमान के गिरने से उसमें आग लग गई और देखते ही देखते विमान पूरी तरह से जलकर खाक हो गया है बताया जा रहा है की ये विमान नियमित अभ्यास पर था। जब इसमें आग लगी तब उससे पहले इसमें मौजूद पायलट पैराशूट पहनकर प्लेन से कूद गए जिससे उनकी जान बच गई खबरों के अनुसार कुशीनगर जिले के कसया थानाक्षेत्र के गांव हेतिमपुर में ये हादसा हुआ जब सोमवार दोपहर को भारतीय वायु सेना का एक लड़ाकू विमान मिग.21 नियमित परीक्षण के दौरान उड़ार भरा रहा था तभी उस वक्त ये क्रैश हो गया। इस घटना के बाद विमान में सवार पायलट की जान बच गई। जहां विमान क्रैश हुआ है, उससे कुछ ही दूरी पर आबादी क्षेत्र है।
पायलट जमीन पर गिरने के पूर्व ही कूद गए पैराशूट के सहारे
ऐसे में बड़ा हादसा हो सकता था। जानकारी अनुसार नियमित परीक्षण पर निकले भारतीय वायुसेना का विमान मिग का उड़ान भरने के 10 मिनट बाद ही संपर्क एयरबेस से उसका संपर्क टूट गया था। जिससे सुपर सोनिक विमान जगुआर उड़ान भरने के तुरंत बाद क्रैश हो गया। बताया जा रहा है की ये विमान गोरखपुर एयरबेस से उड़ान भरी थी, प्लेन क्रेश होने से पहले ही पायलट ने सूझ.बूझ से अपनी जान बचा ली है। पायलट ने समझदारी का परिचय देते हुए विमान को आबादी इलाके से भी दूर रखा जब पूरी तरह से विमान काबू में नहीं हो सका तब वह आबादी क्षेत्र से दूर खेत में जा गिरा जिससे आमजन को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। ऐसे में पायलट विंग कमांडर कटोच विमान के जमीन पर गिरने के पूर्व ही पैराशूट के सहारे कूद गए। इस हादसे के बाद मौके पर वायु सेना व प्रशासन के आला अधिकारी पहुंच गए। इस हादसे की सूचना और धमाके की आवाज सुनकर स्थानीय ग्रामीण घटनास्थल पर एकत्र हो गए। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि इस हादसे का कारण क्या था। वहीं घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है।