जंगली हाथियों के हमले से पति की मौत, पत्नी घायल

0
22

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में जंगली हाथियों के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गयी। जबकि एक महिला गंभीर हालत में उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करायी गयी है।
घटना शनिवार और रविवार की दरम्यानी रात की है। जिले के कटघोरा वन मण्डल के मड़ई गांव में जंगली हाथियों के एक एल ने बोधन सिंह की झोपड़ी पर देर रात हमला कर दिया। हाथियों के हमले में बोधन सिंह (45) की मौके पर मौत हो गयी। जबकि उसकी पत्नी पिपरिया बाई (43) गंभीर रूप से आहत हो गयी।
इस बीच गांव में हाथी घुसने की सूचना वन विभाग को दी जा चुकी थी। वन विभाग का अमला गांव पहुंचा, तब तक जंगली हाथी पास के जंगल में लौट चुके थे। गांव का जायजा लेने के दौरान वन अमले को बोधन सिंह की मौत का पता चला। वन अमले ने गंभीर रूप से आहत पिपरिया बाई को तुरन्त उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पोंड़ी उपरोड़ा में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।
कटघोरा के वन मण्डल अधिकारी एस. जगदीशन ने बताया कि मृतक बोधन सिंह ने गांव के बाहर वन विभाग की जमीन पर जंगल के किनारे बेजा कब्जा कर झोपड़ी बनाया था। हाथियों ने इसी झोपड़ी को अपना निशाना बनाया। उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले ही पी.ओ.आर.जारी कर बोधन सिंह को सलाह दी गयी थी कि हाथी प्रभावित क्षेत्र होने के कारण वह रात के समय झोपड़ी में नहीं रहे। साथ ही बेजा कब्जा हटाने की प्रक्रिया भी प्रारंभ की गयी थी। उन्होंने बताया कि मड़ई क्षेत्र के जंगल में ग्यारह जंगली हाथियों का झुण्ड विचरण कर रहा है। क्षेत्र के निवासियों को सतर्क रहने की सलाह दी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here