नक्सल पीड़ितों की समस्याओं के निराकरण के लिए आयोजित किया गया समाधान शिविर

0
33

00 समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए कलेक्टर ने दिए निर्देश
जगदलपुर। नक्सल पीड़ितों के दर्द को दूर करने के लिए बस्तर जिला प्रशासन द्वारा गुरुवार को समाधान शिविर का आयोजन किया गया। वीर सावरकर सभागार में आयोजित समाधान शिविर में कलेक्टर डाॅ. अय्याज तम्बोली ने नक्सल पीड़ित परिवारों की समस्याओं को एक-एक कर सुना और उनके समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रभात मलिक सहित सभी अनुविभागीय अधिकारीगण, आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। इस अवसर पर कलेक्टर ने नक्सलियों के हाथों मारे गए सभी लोगों के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहा कि नक्सल पीड़ितों की सहायता के लिए जिला प्रशासन द्वारा पूरी तत्परता के साथ कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीड़ितों के दुःख को कम करने तथा उनकी समस्याओं के समाधान के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह तत्पर है।

स्व. पाण्डूराम की विधवा श्रीमती दशई बाई को मिला नौकरी का आदेश

कोलेंग क्षेत्र की समस्याओं को दूर करने के प्रयास में नक्सलियों के हाथों मारे गए जनप्रतिनिधि स्व पाण्डूराम की विधवा श्रीमती दशई बाई को यहां शासकीय सेवा की नियुक्ति का आदेश पत्र दिया गया। इसी तरह दरभा की श्रीमती रजनी जोशी को प्रधानमंत्री आवास के तहत आवास तथा विधवा पेंशन स्वीकृत करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। कलेक्टर के समक्ष पीड़ितों ने खेतों में सोलर पम्प स्थापित करने, तालाब खनन, खेतों की मरम्मत, भूमि का बंटवारा और नामांतरण तथा बच्चों की शिष्यवृत्ति आदि समस्याओं को रखा। कलेक्टर द्वारा इन समस्याओं के त्वरित निराकरण के संबंध में अधिकारियों को निर्देशित किया गया।