भारत ने रूस के साथ की 200 करोड़ की ऐंटी-टैंक मिसाइल डील

0
22

तीन महीने में होगी डिलिवरी
नईदिल्ली। भारत ने रूस के साथ एंटी टैंक मिसाइल स्ट्रम अटाका खरीदने की डील साइन की है। स्ट्रम अटाका एंटी मिसाइल के एमआई-35 हेलीकॉप्टर में लगाए जाने से दुश्मनों के टैंक और अन्य हथियारों से बचाव की क्षमता हासिल हो जाएगी। एमआई-35 भारतीय एयरफोर्स का अटैकिंग हेलीकॉप्टर है। भारत और रूस के बीच यह डील 200 करोड़ रुपए में हुई है। आरएनएस के मुताबिक ऐंटी-टैंक मिसाइल स्त्रम अटाका को अधिग्रहित करने की डील इस शर्त के साथ साइन की गई है कि दस्तावेजों पर हस्ताक्षर होने के 3 महीने के भीतर ही इसकी सप्लाई करनी होगी।
स्ट्रम अटाका एंटी मिसाइल के एमआई-35 हेलीकॉप्टर में लगाए जाने से दुश्मनों के टैंक और अन्य हथियारों से बचाव की क्षमता हासिल हो जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें, भारत सरकार ने 14 फरवरी को हुए पुलवामा हमले के कुछ हफ्तों के बाद तीनों सेनाओं को आपातकालीन अधिकार दिए गए थे। इसके तहत तीनों सेना अपने जरूरत के हिसाब से 300 करोड़ रुपए के हथियार तत्काल प्रभाव से खरीद सकती हैं।
इससे पहले भारत रूस के साथ एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम की खरीद भी फाइनल कर चुका है। एस-400 रूस की सबसे आधुनिक लंबी दूरी की सतह-से-हवा में मार करने वाली मिसाइल रक्षा प्रणाली है। रूस से 2014 में यह प्रणाली खरीदने वाला चीन सबसे पहला देश था। भारत और रूस ने पिछले साल अक्टूबर में पांच अरब डॉलर के एस-400 वायु रक्षा प्रणाली सौदे पर हस्ताक्षर किए थे।