अब जवान भी सादी वेशभूषा में करेंगे नक्सलियों पर हमला

0
79

जगदलपुर। नक्सलियों के द्वारा अपने स्मॉल एक्शन दलों के द्वारा भीड़ भरे क्षेत्रों में पुलिस व सुरक्षाबलों के जवानों पर अचानक कार्यवाई कर उन्हें धराशायी करने की कोशिश का जवाब अब सादी वेशभूषा में रेपिड एक्शन टीम के जवान तुरंत करेगें और नक्सलियों को भरपूर प्रत्युत्तर देंगें।
अभी तक यह देखने में आ रहा था कि भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों, मेले और मंड़ई आदि में सुरक्षा के लिये तैनात पुलिस के जवानों पर नक्सलियों के स्मॉल एक्शन टीम द्वारा अचानक कार्यवाई की जाती थी और जवानों को नुकसान उठाना पड़ता था लेकिन अब पुलिस ने उन्हीं की भाषा में जवाब देने के लिये रेपिड एक्शन टीम का गठन किया है। जो हमला होने पर तुरंत ही ऐसे नक्सलियों पर कार्यवाई कर जवाब देगें। सूत्रों के अनुसार आरएटी में डीआरजी के स्थानीय जवानों को लेकर इसका गठन किया गया है। यह जवान स्थानीय बोली और वेशभूषा में रहेंगे और स्थानीय लोगों से आराम से अपना संबध स्थापित कर लेंगे।
उल्लेखनीय है कि इस समय समूचे बस्तर में वार्षिक मड़ई,मेला आदि का आयोजन पूर्ण रूप से शुरू हो चुका है और विभिन्न ग्रामीण अंचलों में तिथियों के अनुसार इसका आयोजन हो रहा है। नक्सली ऐसे ही अवसरों की तलाश में रहते है और पुलिस तथा सुरक्षाबलों को अपना निशाना बनाकर भारी चोट पहुंचाते है । इससे पुलिस सुरक्षाबलो को हर वर्ष नुकसान उठाना पड़ता था। इसे देखकर पुलिस ने ऐसी वारदातों को रोकने तथा उन नक्सलियों की कार्यवाई को भरपूर तरीके से जवाब देने के लिये आरएटी का गठन कर उन्ही की भाषा में जवाब में देने की कोशिश की जा रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार यह आरएटी नक्सलियों की स्मॉल एक्शन टीम के सदस्यों की निशानदेही कर टीम में शामिल दो या तीन नक्सली सदस्यों पर अपनी कार्यवाई सुनिश्चित करेगी। कार्यवाई करने के बाद यदि यह टीम भागने की कोशिश करेगी तो आरएटी अपना कार्य कर उनको भागने से रोकेगी ही साथ में लोगों की सुरक्षा भी करेगी। नक्सलियों की स्मॉल एक्शन टीम में अधिकतर युवा किशारों को ही शामिल किया जाता है और इन सदस्यों को स्कुल के यूनिफार्म के साथ भीड़ वाले स्थानों में भेजा जाता है। इन किशोरों को नक्सली विशेष हथियार देते हैं जिससे उन्हें पुलिस के जवानों पर कार्यवाई करना होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here