जंगल में मिला स्कार्पियो ड्राइवर का शव

0
60

कोरबा। बालको थाना अंतर्गत लालघाट निवासी चार पहिया वाहन चालक वास्तव वैष्णव की लूट के लिए हत्या करके शव को फेंक दिया गया। मंगलवार की सुबह श्यांग थाना अंतर्गत गुरमा के जंगल में उसका शव मिला।
बालको थाना अंतर्गत लालघाट निवासी वास्तव वैष्णव 26 पिता भारत दास पेशे से चार पहिया वाहन चालक था। वर्तमान में वह हवलदार विरेंद्र मिश्रा की स्कार्पियो क्रमांक सीजी.12.एके.3559 चला रहा था। सोमवार 5 फ रवरी की सुबह वह रिस्दा में अपने बहन के यहां था। जहां दो लोग पहुंचे। उन्होंने वास्तव को स्कार्पियो में किसी काम के सिलसिले में श्यांग जाने-आने के लिए बात की। बुकिंग 2 हजार रुपए में तय हुआ। जिसके बाद वास्तव उन दोनों को स्कार्पियो में बिठाकर श्यांग के लिए रवाना हो गया। जिसके बाद से वास्तव का मोबाइल स्वीच ऑफ हो गया। रात तक वास्तव वापस नहीं आया।
एडिशनल एसपी कीर्तन राठौर ने बताया कि गुरमा जंगल में लापता वाहन चालक वास्तव का शव मिला जो प्रथम दृष्टया हत्या है। वाहन लूट के लिए हत्या करने का संदेह है। इसके आधार पर हत्या का जुर्म दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 10 फरवरी को बालको थाना में उसकी गुमशुदगी की सूचना दी गई। पुलिस अभी उसकी पतासाजी में जुटी थी कि मंगलवार की सुबह श्यांग थाना अंतर्गत गुरमा के जंगल में उसका शव मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। जंगल में खोजबीन करने के बाद भी स्कार्पियो नहीं मिली। वारदात के पीछे बाहरी गिरोह का हाथ माना जा रहा है जो बुकिंग में चार पहिया ले जाने के बाद चालक की हत्या कर वाहन लूट ले जाते हैं। मामले की जांच में जुटी पुलिस मान रही है कि बालको की ओर से जंगल के रास्ते लेमरू होते हुए गुरमा तक पहुंचे। जहां जंगल में चालक वास्तव की हत्या करके शव को फेंक दिया। फिर श्यांग से सीधे धरमजयगढ़ होते आगे की ओर भाग निकले होंगे। ऐसे गिरोह झारखंड, बिहार व यूपी में सक्रिय है। इसलिए वहां के गिरोह के बारे में जानकारी ली जा रही है। मृतक वास्तव अपनी पद्यी अंजनी व 15 माह के दूधमुंहे पुत्र के साथ रहता था। पद्यी अंजनी के मुताबिक सोमवार को पति वास्तव ने उसे श्यांग जाने की जानकारी दी थी। वहां मोबाइल नहीं लगने की बात कहते हुए रात तक वापस घर लौट आने को कहा था। रात में खाना बनाकर वह इंतजार करती रही। लेकिन इसके बाद वापस नहीं आने पर आगे बुकिंग में कहीं चले जाने की सोचकर परिवार परेशान था। चालक की हत्या करके जिस स्कार्पियो को पार किया गया है वह बालको नगर निवासी हवलदार विरेंद्र मिश्रा के नाम से रजिस्टर्ड है। विरेंद्र मिश्रा कटघोरा एसडीओपी ऑफिस में रीडर है।
मंगलवार की सुबह जैसे ही गुरमा जंगल में मिले युवक के शव की शिनाख्त लापता चालक वास्तव के रूप में हुई एसपी मयंक श्रीवास्तव व एएसपी कीर्तन राठौर ने श्यांग में घटनास्थल पहुंचकर निरीक्षण किया। क्राइम ब्रांच की टीम भी जांच में बुलाई गई। हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई। पुलिस टीम बालको नगर में लगे सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल टॉवर से घटना दिनांक को आपरेट मोबाइल की जानकारी जुटा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here