ठगी के आरोपी पूर्व पार्षद का जेल जाने के भय से बिगड़ा स्वास्थ्य

0
20

अस्पताल में करवाया गया भर्ती
दुर्ग। भाजपा के पूर्व पार्षद पर महिला को नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने का मामला सामने आया है. पाडि़ता के शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पार्षद को गिरफ्तार कर लिया है. फिर जेल जाने की डर से पूर्व पार्षद का ब्लड प्रेशर इतना हाई हो गया कि उसे अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक शंकर नगर के भाजपा के पूर्व पार्षद निलेश मड़ामे के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला मोहन नगर पुलिस ने दर्ज किया है। पटवारी चयन परीक्षा में नौकरी लगवाने के नाम पर पूर्व पार्षद द्वारा 2 लाख रुपए लिए जाने की शिकायत वार्ड की भावना बोबार्डे ने की थी। प्रार्थिया का कहना है कि अप्रैल 2017 में पूर्व पार्षद ने मंत्रालय में अपनी पहुंच बताकर पटवारी परीक्षा में नौकरी लगाने के नाम पर 2 लाख रुपये नगद लिए थे। महिला ने अपने जेवर बेचकर 1 लाख 75 हजार रुपये नगद दिए थे, बचे हुए 25 हजार आरोपी पूर्व पार्षद को प्रार्थिया के पति ने हफ्ते भर बाद दे दिया था। परीक्षा हो जाने के बाद जब प्रार्थिया का चयन नहीं हुआ, तो उसे लगा कि उसके साथ पूर्व पार्षद द्वारा धोखाधड़ी की गई है। जिस पर उन्होंने अपना पैसा वापस मांगा लेकिन पूर्व पार्षद द्वारा पैसों के लिए पीडि़त को बार बार समय देकर घुमाया जा रहता था। आरोपी पूर्व पार्षद के द्वारा कहा जाता था कि उन्होंने जिसे पैसे दिए है। उसकी मृत्यु हो गई है। अब जब उनके पास पैसा होगा, तब वो रकम वापस करेंगे। ऐसे में पैसा न मिलने की स्थिति में थक हार कर पीडि़ता ने इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक से की थी। जिस पर संज्ञान लेते हुए मोहन नगर पुलिस ने जांच की व पूर्व पार्षद को दोषी पाते हुए उस पर 420 की धारा के तहत धोखाधड़ी का मामला पंजीबद्ध कर गिरफ्तार किया गया। जिसके बाद पूर्व पार्षद को शनिवार की शाम न्यायालय में पेश किया गया, तो जेल जाने के डर से उसका ब्लड प्रेशर 180 से 200 पहुंच गया। तत्काल उसे जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है।