भटक रहे वन्य-प्राणी : तेंदूपत्ता तोड़ रहे श्रमिकों को हाथी ने दौड़ाया, वहीं गांव में घुस भालू ने दो लोगों को काटा

0
28

महासमुंद। भीषण गर्मी में वन्य-प्राणी भटक रहे हैं. आज शनिवार सुबह सिरपुर जंगल में तेंदूपता तोडऩे गए श्रमिकों को हाथी ने दौड़ाया. यहां से लोग जान बचाकर भागे. वहीं शुक्रवार की शाम बागबाहरा ब्लॉक सुअरमार गांव में भालू घुस गया. साथ ही हाइवे के बीचो-बीच भालू बैठकर लोगों की आवाजाही को रोक दिया. बतादें कि गर्मी की वजह से जंगल में पानी की भारी कमी है, इसके कारण पानी की तलाश में वन्य-प्राणी गांव के समीप पहुंच रहे हैं.
बागबाहरा ब्लॉक के चंदरपुर में एक भालू घुस गया और यहां दो लोगों को घायल करने की खबर है। ग्रामीणों के अनुसार नर्मदा हुलुस 45 तथा दशरथ विशेषर को भालू ने काट लिया, दोनों को अस्पताल भेजा जा रहा है। हालांकि अभी तक वन विभाग की टीम नहीं पहुंच पाई है। बताया जा रहा कि हाइवे किनारे हुए इस घटना में एक भालू काफी खतरनाक हो गया है, जैसे ही लोगों का सामना उससे हो रहा उन्हें वह दौड़ा रहा है।
सुअरमार में घुसा भालू लगी ग्रामीणों की भीड़
हाथी ने ग्रामीणों को ऐसे दौड़ाया : आज सुबह तेन्दूपत्ता तोडऩे गए महिलाओ का सामना हाथी से हो गया. बंदोरा गांव के जंगल में बने बुदिया डबरी के पास भोजकुमारी पटेल, प्रमीला पटेल, गौरी बाई, बुदा बाई, एवं धन्नजय पटेल तेंदूपत्ता तोड़ रहे थे, अचानक दतैल हाथी इनके तरफ आगे बढ़ा. ऐसे स्थिति में यहां तेंदूपत्ता तोड़ाई कर रहे लोगों में अफरा-तफरी मच गया। जान बचाकर लोगों ने तेंदूपता तोड़ाई छोड़ घर वापस आए.
बतादें कि बीती रात 1 बजे दतैल हाथी खिरसाली गांव के गली में घुम रहा था। घर के छत के ऊपर सो रहे लोगों को हाथी चलने की आवाज सुनकर जोर-जोर से आवाज और ग्रामीणों को सचेत किया, इसके बाद आधी रात ग्रामीणों ने मशाल एवं टार्च जलाकर हाथी को यहां से खदेड़ा. इसके बाद हाथी का दल सम्पत पटेल के खेत में पहुंच कर धान की फसल को नुकसान पहुंचाया. हाथी का सही लोकेशन विभाग के पास नहीं होने के कारण लोग दहशत में जी रहे हैं. हाथी भगाओं संयोजक राधेलाल सिन्हा ने कहा हाथी का लोकेशन ग्रामीणों द्वारा बताने के बाद भी विभाग के कर्मचारी सही समय पर नहीं पहुंचते. जिसके कारण इस क्षेत्र में रहने वाले लोग हर पल दहशत के साए में जी रहे हैं.