किरण रिजिजू पहुंचे औली, दो दिनों तक करेंगे प्रवास

0
26

गोपेश्वर/औली। केन्द्रीय युवा मामले और खेल मंत्री किरेन रिजिजू शनिवार को चमोली जिले के विश्व प्रसिद्ध हिमक्रीड़ा स्थली औली पहुंचे। वे यहां दो दिनों तक निवास करेंगे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि औली में शीतकालीन खेलों की अपार संभावनाएं हैं। केंद्र सरकार की ओर से खेलों को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न योजनाएं बनाई जा रही हैं। ऐसे में औली को विकसित करने पर भी कार्य किया जाएगा।
केन्द्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू शनिवार को सेना के एमआई 17 हेलीकाप्टर से आर्मी हैलीपैड जोशीमठ पहुंचे। उसके बाद यहां से वे जोशीमठ-औली रोपवे से औली पहुंचे। यहां दो दिनों के प्रवास के दौरान वे आईटीबीपी के अधिकारियों और जवानों से मुलाकात करेंगे।
औली पहुंच कर रिजिजू ने कहा कि केंद्र सरकार देश में शीतकालीन खेलों को बढ़ावा देने की योजना बना रही है। इसके के लिए अब सरकार की ओर से शीतकालीन खेलों के वित्तीय मामलों की जिम्मेदानी भी खेल मंत्रालय को देने की योजना है, जिससे शीतकालीन खेलों के विकास को लेकर संभावनाएं बढ़ गई हैं।
खेल मंत्री ने कहा कि औली प्राकृतिक रूप से बहुत सुंदर स्थान है। यहां शीतकालीन खेलों के लिए अपार संभावनाएं हैं, जिनके विकास के लिए पूरे प्रयास किए जाएंगे। औली भ्रमण के बारे में बताया कि वे पूर्व में भी यहां आए थे। यहां सीमा पर तैनात अधिकारियों और जवानों से मिलने से उन्हें गर्व महसूस होता है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की यात्रा अधिकारियों और जवानों के मनोबल को बढ़ाती है।
यहां पहुंचने के बाद उन्होंने ट्वीट किया, “भारत में शीतकालीन खेलों को बढ़ावा देने के लिए आईटीबीपी के पर्वतारोहण और स्कीइंग संस्थान का मूल्यांकन और समर्थन करने के लिए उत्तराखंड में औली पहुंच गया हूं। हम शीतकालीन और साहसिक खेलों को अधिक प्रोत्साहित करना चाहते हैं, जो भारत में पर्यटन उद्योग को और बढ़ावा देंगे।”