सीबीआई ने संभाला पोलाची यौन उत्पीडऩ मामले की जांच का जिम्मा

0
16

नईदिल्ली। सीबीआई ने तमिलनाडु में कोयंबटूर जिले के पोलाची शहर में एक महिला के कथित यौन उत्पीडऩ और घटना का वीडियो बना कर उसे ब्लैकमेल करने के मामले की जांच का जिम्मा संभाल लिया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एजेंसी ने मामले में दो अलग-अलग प्राथमिकियां दर्ज की हैं- जिसमें से एक महिला के यौन उत्पीडऩ से संबंधित है और दूसरा उसके भाई के साथ मारपीट से संबंधित। सीबीआई ने तमिलनाडु सरकार के आग्रह पर 12 मार्च को जांच का जिम्मा संभाल लिया। माना जा रहा है कि गिरोह ने तमिलनाडु में कई महिलाओं का यौन उत्पीडऩ किया और उन्हें ब्लैकमेल किया। इस घटना को लेकर राज्य में काफी हंगामा भी मचा। सरकार ने तकनीकी विशेषज्ञता की जरूरत के साथ समर्पित जांच और अपराध की गंभीर प्रकृति के कारण विशेष रूप से ध्यान देने की जरूरत का हवाला देते हुए यौन उत्पीडऩ और हमले का मामला राज्य सीबी-सीआईडी से लेकर सीबीआई को सौंपने को अपनी मंजूरी दी थी। गौरतलब है कि चेन्नई से 500 किलोमीटर दूर पोलाची के निकट एक कार के अंदर चार लोगों के एक गिरोह ने 12 फरवरी को एक युवती का कथित रूप से उत्पीडऩ करने का प्रयास किया, इस कृत्य का एक वीडियो बनाया और उसे ब्लैकमेल किया। पीडि़ता वहां से भागने में सफल रही और उसने पुलिस के समक्ष 24 फरवरी को मामला दर्ज कराया। सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के एक स्थानीय कार्यकर्ता द्वारा पीडि़ता के भाई पर कथित तौर पर हमले के बाद इस मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया था। हमला करने वाले अन्नाद्रमुक के कार्यकर्ता को बाद में निलंबित कर दिया गया। मीडिया के एक हिस्से की रिपोर्ट के अनुसार, इस गिरोह ने कई अन्य महिलाओं का यौन उत्पीडऩ किया था जिसे लेकर काफी हंगामा मच गया।