केंद्रीय जेल में बंदी की मौत, बिठाई गई जांच कमिटी

0
21

रायपुर। केंद्रीय जेल रायपुर में छह और सात जनवरी की दरम्यानी रात को विचाराधीन बंदी अनुज पटेल पिता मानकधारी उम्र 53 वर्ष की मौत के मामले में जिला प्रशासन ने जांच बिठाई है। बंदी अनुज पटेल सोनाडीह, चौकी रेवटी, थाना चंदौरा, जिला सूरजपुर (छ.ग.) का निवासी था। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी रायपुर के निर्देश पर इस संबंध में दंडाधिकारी जांच की जा रही है। दंडाधिकारी जांच का दायित्व अनुविभागीय दंडाधिकारी (नगर) यूएस अग्रवाल को सौंपा है। अनुविभागीय दंडाधिकारी अग्रवाल ने आम नागरिकों से कहा है कि मृतक दंडित बंदी के संबंध में जिस किसी भी व्यक्ति को कोई जानकारी अथ्वा लिखित सूचना देनी हो, वे 15 दिनों के भीतर दे सकते हैं। इस मामले में बता दें कि मृतक विचाराधीन बंदी अनुज पटेल माननीय न्यायालय न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रथम श्रेणी प्रतापपुर, जिला सूरजपुर के विचाराधीन प्रकरण अप.क्र. 79/2019 धारा 302 भा.द.वि. के तहत दो जनवरी 2020 को उप जेल, सूरजपुर में प्रविष्ट हुआ था। स्वास्थ्य खराब होने पर जांच एवं उपचार के लिए चार जनवरी को केंद्रीय जेल अंबिकापुर स्थानांतरण पर भेजा गया था।बंदी को शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय से संबद्ध चिकित्सालय अंबिकापुर ने जांच उपचार के लिए डॉ. भीमराव आंबेडकर स्मृति चिकित्सालय रायपुर में कराने के लिए केंद्रीय जेल अंबिकापुर से छह जनवरी 2020 को स्थानांतरण पर भेजा। केंद्रीय जेल रायपुर में छह और सात जनवरी के दरम्यानी रात 4 .10 बजे मेन गेट के बाहर जेल परिसर में जेल चिकित्सक, केंद्रीय जेल रायपुर के द्वारा बंदी का परीक्षण किये जाने के बाद बंदी की सांस थमी हुई पाई।