कोरिया,खनिजों के अवैध उत्खनन एवं परिवहन पर होगी कडी कार्यवाही-कलेक्टर

0
11

00 समय-सीमा की बैठक सम्पन्न
कोरिया,
कलेक्टर भोस्कर विलास संदिपान की अध्यक्षता में आज यहॉ जिला कलेक्ट्रोरेट के सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने प्रदेष के पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा षिक्षा, योजना अर्थिक एवं सांख्यिकी, बीस सूत्रीय कार्यान्वयन, वाणिज्यिक कर(जीएसटी) मंत्री श्री टी.एस.सिंहदेव के 02 मार्च को प्रस्तावित आगमन के पूर्व संबंधित विभागों को विभागीय जानकारियां अद्यतन करने के निर्देष दिये। उन्होंने कहा कि स्वास्व्थ्य मंत्री का कोरिया जिले में पहली समीक्षा बैठक होनी है। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। इस अवसर पर उन्होंने सभी एसडीएम एवं तहसीलदार को किसान सम्मान निधि योजना की एन्ट्री नियत समय से पहले करने के निर्देष दिये, ताकि ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ मिल सके।कलेक्टर ने कहा कि पीएमजीएसवाई एवं नरेगा के कार्यों के नाम पर खानापूर्ति नहीं होनी चाहिए। वास्तव में कार्य हो रहा है या नहीं निरीक्षण करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देष दिये। बैठक में उन्होंने खाद्य विभाग के कार्यों मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना के तहत चना, चावल, नमक, मिट्टी तेल आदि के भण्डारण एवं वितरण के संबंध में जानकारी प्राप्त की और मिट्टी तेल आने पर संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं तहसीलदार से प्रमाणित करके कलेक्टर कार्यालय को जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देष दिये। बैठक में कलेक्टर ने खनिज के अवैध उत्खनन एवं परिवहन पर कडी कार्यवाही करने के लिए खनिज विभाग के अधिकारियों को निर्देष दिये। इसी प्रकार उन्होंने जिले में स्टेडियम निर्माण के लिए स्थान चिंहांकित करने की बात कही।
बैठक में लोकसभा निर्वाचन 2019 के संबंध में की जा रही तैयारियों की भी जानकारी प्राप्त की और जिले के सभी मतदान केंद्रों में मतदाताओं के पंजीयन हेतु दो दिवसीय विषेश षिविर का आयोजन 02 मार्च से करने के लिए संबंधित अधिकारियों को कहा। बैठक में उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेष बघेल द्वारा कही गई बात नरवा, गरूवा, घुरवा और बारी गांवों की समृद्धि का आधार बनने पर चर्चा कर संबंधित अधिकारियों को आवष्यक दिषानिर्देष दिये। इसी तरह कलेक्टर ने जल संरक्षण एवं संवर्धन के कार्य, मुआवजा प्रकरण, भवनविहीन आंगनबाडी, मनरेगा के औसत रोजगार को बढावा देने, सौर सामुदायिक परियोजना, मजदूरी भुगतान, राश्ट्रीय सुरक्षा खाद्य मिषन, षाकंभरी योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना की जानकारी, मुद्रा लोन(षिषु, तरूण, किषोर), परिवहन, अपूर्ण आंगनबाडी भवनांे को पूर्ण करने, दिव्यांगजनों की निःषक्तता की पहचान कर प्रमाण पत्र बनाने, विषेश पिछड़ी जनजाति के जाति प्रमाण पत्र, सौभाग्य योजना के तहत विद्युत आपूर्ति, उच्च न्यायालय के लंबित मामलों की जानकारी, आबादी भूमि पट्टा वितरण, राजस्व विभाग के अविवादित, विवादित, नामांतरण, बटवारा, सीमांकन, अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के ऑनलाइन बनाये जा रहे जाति, निवास और आय प्रमाण पत्रों की जानकारी, मरम्मत योग्य स्वास्थ्य केन्द्रो, डिजिटल हस्ताक्षर, भू-अर्जन, वनाधिकार पत्रक वितरण, केंद्र व मुख्यमंत्री सामाजिक सुरक्षा पेंषन, मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना, षहीद वीरनारायण स्वालंबन योजना, आदिवासी स्वरोजगार योजना, आदि योजनाओं की प्रगति की जानकारी प्राप्त की और लंबित प्रकरणों को यथाषीघ्र निराकरण करने के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देष दिये। इस अवसर पर जिले के सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार, विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, नगरीय निकायों के सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारी और सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।