निगम अमले ने उठवाया तीन टेªक्टर कचरा

0
71

रायपुर – नगर निगम रायपुर के आयुक्त श्री रजत बंसल के निर्देष पर नगर निगम जोन 4 के जोन कमिष्नर श्री आरके डोंगरे के नेतृत्व एवं जोन के वरिष्ठ स्वच्छता निरीक्षक श्री इकरामुल अंसारी की उपस्थिति में आज रायपुर जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय परिसर में जिला पंचायत कार्यालय परिसर में, रेडक्रास सभाकक्ष के पीछे पिछले लंबे अर्स से डंप पडे भारी मात्रा में कचरे एवं वेस्टेज बिल्डिंग मटेरियल को जोन की 12 सफाई मित्रों की विषेष टीम एवं टेªक्टर ट्राली की सहायता से सुबह 6 बजे से लगातार 6 घंटे तक विषेष अभियान चलाकर हटाया गया एवं व्यवस्थित कर पूरी तरह स्वच्छता कचरा व वेस्टेज बिल्डिंग मटेरियल के मलमे को उठवाकर कायम की गई। जोन 4 की स्वच्छता टीम के विषेष अभियान के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा मतदाताओ की सुविधा हेतु स्थापित ईव्हीएम, वीवीपेट के स्थायी प्रदर्षन केन्द्र एवं जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति के शाखा कार्यालय के समीपस्थ जिला पंचायत कार्यालय परिसर में लंबे समय से डंप कचरे एवं बिल्डिंग मटेरियल को सफाई मित्रो ने निरंतर लगभग 6 घंटे कडी मेहनत कर लगभग 3 टेªक्टर ट्राली कचरा व वेस्टेज बिल्डिंग मटेरियल उठवाया। वेस्टेज बिल्डिंग मटेरियल में बडी मात्रा में पुराने अनुपयोगी टूटे हुए पेवर ब्लाक्स एवं भारी मात्रा में कचरा व वेस्टेज शामिल है। इसके अलावा वहां पुरानी अनुपयोगी सीढी एवं टूटे फूटे अनुपयोगी फर्नीचर व गेट को भी कचरे के साथ डंप कर दिया गया था। जिसे निगम की स्वच्छता टीम ने दूसरे स्थान पर वहीं उस परिसर में रखकर स्वच्छता के साथ व्यवस्थित कर दिया। इसके बाद जोन 4 स्वास्थ विभाग की विषेष टीम ने पूरे परिसर में एंटी लार्वा ट्रीटमेंट करके कीटनाषक दवा छिडकाव प्रभावी तरीके से करवाया। जिला निर्वाचन कार्यालय परिसर में सक्षन मषीन की सहायता से चेम्बरो की विषेष सफाई करवाकर स्वच्छता त्वरित रूप से जोन 4 अमले द्वारा कायम की गई। विषेष सफाई अभियान से निर्वाचन ड्यूटी कर रहे अधिकारियों व कर्मचारियों सहित जिला निर्वाचन कार्यालय परिसर में जिला पंचायत परिसर में स्थापित ईव्हीएम वीवीपेट के स्थायी प्रदर्षन केन्द्र में जिज्ञासावष पहुंच रहे मतदाताओं को मच्छरो, गंदगी से त्वरित राहत मिली एवं जोन 4 के स्तर पर जोन स्वास्थ्य विभाग अमले द्वारा प्राप्त जनषिकायतो का त्वरित निदान जनहित में जनस्वास्थ्य सुरक्षा हेतु विषेष अभियान चलाकर किया गया।