ब्लू व्हेल जैसे खेल तो नहीं खेल रहा आपका बच्चा।

0
48

मुम्बई, मुंबई में एक बच्चे की आत्महत्या से सनसनीखेज खुलासा हुआ है और आपके आस पास और परिवार में बच्चों पर ध्यान रखना जरुरी हो गया है। इस खेल में 50 चुनौतियां इंटरनेट के जरिये दी जाती है और इसे स्वीकारने वाले को इंटरनेट पर हर स्तर को पार करने का प्रमाण देना होता है। कहते है रूस से इस ख़तरनाक मनोवैज्ञानिक कुत्सित खेल का आरम्भ हुआ…

इस खेल में बच्चो को डरावनी फिल्म अकेले देखने की चुनौती दी जाती है, व्हेल मछली को शरीर के ऊपर उकेरकर खून दिखते हुए उसके आकर की फोटो ऑन लाइन देनी होती है और आखिरी स्टेप में किसी ऊँचे स्थान से छलांग लगाकर इहलीला समाप्त करने की चुनौती होती है। चूँकि इन चुनौतियों को पूरा करने में समय लगता है इसलिए यदि आप बच्चो के मनोविज्ञान और उनकी हरकतों पर ध्यान दे तो किसी भी प्रकार की दुर्घटना से बचा जा सकता है।

बच्चे हमारा भविष्य है और इनके बाल मन पर किसी भी प्रकार के दुर्भाग्यपूर्ण खेल का असर नहीं होने देना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here